Statue of Unity की पूरी जानकारी हिंदी में! | Statue of Unity in Hindi

0

Statue of Unity की पूरी जानकारी हिंदी में! | Statue of Unity in Hindi

नमस्कार दोस्तों मैं हूं भरत मेवाड़ा और आप हमारे ब्लॉग नॉलेज फाइंडर पर है, आज हम बात करेंगे Statue of unity के बारे में जोकि सरदार वल्लभ भाई पटेल की दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा है ? तो दोस्तों आइये जानते है Statue of unity कब बनाया है ?, Statue of unity क्यों बनाया है, स्टेचू ऑफ यूनिटी की पूरी जानकारी हिंदी में

सन उन्नीस सौ सैंतालीस सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा  सौराष्ट्र संघ की स्थापना  स्वराष्ट्र हैदराबाद  ग्वालियर और ऐसे सैंकड़ों  रजवाड़ों के राजाओं और निजाम मोसे बातचीत और समाधान किया  अंग्रेजों की कूटनीति समझकर अपने अदम्य इच्छाशक्ति और अपनी राजनीतिक कुशलता से सभी छोटे बड़े  रजवाड़ों को एकत्रित किया।

Statue of Unity की पूरी जानकारी हिंदी में

Statue of Unity ?

निर्माण हुआ एक अखंड भारतीय गणतंत्र का आधुनिक भारत के शिल्पकार सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा भारत के लौह पुरुष को हम दे रहे हैं श्रद्धांजलि उनके आदर्शों की प्रतिकृति के रूप में उभरा एक सबसे बड़ा निर्माण जो बनेगा भारत की सबसे बड़ी पहचान, देश की अखंडता और एकता का प्रतीक  स्टैचू ऑफ यूनिटी विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा और विश्व के सामने एक संदेश  यही है।

एक भारत श्रेष्ठ भारत  विश्व के इतिहास में जो कभी ना बनी हो ऐसी प्रतिमा जो बनेगी  श्रद्धांजलि के पाए के साथ जिसमें सिर्फ ने इंजीनियरिंग और आर्किटेक्चर ही नहीं  जो है स्टैचू ऑफ लिबर्टी से दोगुना बड़ी  जिसकी ऊंचाई सरदार सरोवर बांध से भी बड़ी है  जिसकी उम्र चाहिए 60 मंजिला इमारत के बराबर  देखने वालों को दंग कर देने वाली इस 182 मीटर की ऊंची प्रतिमा  के लिए सरदार सरोवर बांध डैम से अच्छा कोई स्थान हो ही नहीं सकता।

देश के 120 करोड़ लोगों के योगदान से ही पूरा हुआ इस महाकाल निर्माण का सपना और अखंड भारत की एक दिव्य चौथ जो बांधी कि हमें एक सूत्र में  जिसके लिए लोहा योगदान करेंगे, इस देश के किसान जो अपने किसी न किसी एक औजार को सरदार पटेल की प्रतिमा के लिए  दिया है उसे पिघला कर बनाई गई है स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, और इस देश के 700000 गांव के किसान सहभागी बने इस महान का है मूर्ति निर्माण में किसान पुत्र सरदार वल्लभभाई की देश भक्ति और निष्ठा में अपना एक छोटा सा हिस्सा देने के लिए।

Statue of Unity की पूरी जानकारी हिंदी में

इस प्रोजेक्ट में सरदार वल्लभ भाई पटेल के प्रिय विषय  जैसे कि कृषि जल व्यवस्थापन पर्यावरण बायोटेक्नोलॉजी आदिवासी क्षेत्रों के विकास  के लिए संशोधन केंद्र भी स्थापित किए जाएंगे  हाईटेक रिसर्च इंस्टीट्यूट  डिटरमिनेशन सेंटर आदि संस्थाओं के विकास के लिए  शिव क्षेत्र ज्ञान के केंद्र के रूप में विकसित होने जा रहा है  स्टेचू ऑफ यूनिटी विकास कार्यों के अलावा पर्यटन के रूप में भी विकसित किया गया है और आज लाखो लोग इस प्रतिमा को देखने के लिए सरदार सरोवर पर आते हैं।

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास और क्या क्या देखने को मिलेगा  मार के सामने 400 फीट की ऊंचाई पर है  एक दृश्य दरगाह जहां से आप सरदार सरोवर बांध तो पूरी तरह से देख सकते हैं  और आसपास के कुदरती दृश्य का अद्भुत नजारा  इसके अलावा वहां पर है विजिटर मेमोरियल सेंटर  एग्जिबिशन गैलरी  श्रेष्ठ भारत भवन  एवरी थिएटर अंडर वॉटर मन से क्यों  और साउंड ऑफ लेजर शो जैसे मनोरंजन  के माध्यम  दुनिया का सबसे बड़ा बांध कहां बनाने वाली जिसे हम बुर्ज खलीफा के नाम से जानते हैं उसी कंपनी में इसका निर्माण किया है जिसका नाम है  टनल प्रोजेक्ट मैनेजमेंट  इंडिया लिमिटेड  को शामिल किया गया

और क्या खास है स्टेचू ऑफ यूनिटी में

स्टैचू ऑफ यूनिटी दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति स्टैचू ऑफ लिबर्टी से दोगुना बड़ी है
इस मूर्ति को बनाने में 2332 करोड रुपए का खर्च आया है  वही पूरी परियोजना में कुल 3000 करोड रुपए का खर्च आया है।

सिर्फ 42 महीनों के अंदर इस पूरे विशालकाय साम्राज्य को बनाकर तैयार किया गया है
इस मूर्ति के अंदर एक हॉल भी बनाया गया है जिसके अंदर एक साथ 200 लोग रह सकते हैं

इस विशालकाय मूर्ति का वजन 67000 किलो मेट्रिक टन है, इस मूर्ति को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि यह हवा पानी तूफान और भूकंप से भी लड़ने के लिए सक्षम है।

पूरे गुजरात में 182 निर्वाचन क्षेत्र है और 182 मीटर की प्रतिमा उसी को दर्शाती है।

भारत के 500000 किसानों ने अपने पुराने औजार इस मूर्ति को बनाने के लिए दान किए
आम लोगों को सुशासन  प्रार्थना पत्र की भी यहां पर एक आधारशिला रखी गई जिसमें आप यकीन नहीं मानेंगे 2 करोड़ लोगों ने इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

15 दिसंबर 2013 को और  रन ऑफ मैराथन की भी शुरुआत की गई  और इस रन ऑफ मैराथन मैं पूरे भारत में करोड़ों लोगों ने हिस्सा लिया।

इस प्रतिमा को 4500 मजदूरों ने दिन और रात काम करके बनाया है।

स्टेचू ऑफ यूनिटी तक पहुंचने के लिए 5 किलोमीटर तक बोर्ड राइटिंग की सुविधा भी उपलब्ध है।

इस बजट के पास श्रेष्ठ भारत भवन है जिसके अंदर  थ्री स्टार होटल सुविधा और 52 कमरे रहने के लिए हैं।

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास एक पब्लिक प्लाजा भी है जिसके अंदर यात्रियों के लिए खाना पीना और गिफ्ट आर्टिकल जैसी वस्तुओं की दुकानें हैं।

नवंबर 2019 में 15036 लोगों ने इस प्रतिमा को देखने के लिए सरदार सरोवर बांध पर कदम रखा।

और 2019 के पूरे साल में 3 पॉइंट 39 मिलियन लोगों ने इस मूर्ति को देखने के लिए आए।

Statue of unity Location 

Narmada Valley Kevadiya colony, Narmada district, Gujarat, India

Last Word

तो दोस्तों, यह था आज के जानकारी Statue of unity कब बनाया है ?, Statue of unity क्यों बनाया है, Statue of unity के बारे में पूरी जानकारी। आशा करता हु आपको यह जानकारी पसंद आया है।

हेलो दोस्तों, पोस्ट केसा लगा और कोई सवाल है तोह निचे कमेंट जरूर करे इस पोस्ट को शेयर करने के लिए इस आर्टिकल के शुरुवात में और अंत में शेयर बटन पर क्लिक करके आसानी से शेयर कर पाएंगे। Knowledge finder ब्लॉग का Latest Update पाने के लिए और अपने फ़ोन में Notifications पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज लाइक करे, Bell Icon सब्सक्राइब करे।

“हर बार की तरह आपका कीमती समय देकर हमारे लिख इतना प्यार से पढ़ने के लिए, नॉलेज फाइंडर ब्लॉग विजिट करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद”।

यह भी पढ़े –

Previous articleDirect call connect kaise kare [ICICI care Number]
Next articlePubg game khelne wale pagal ? | PUBG addicted se kaise nikale
नमस्कार मेरा नाम bharat mewada है और मैं गुजरात का रहने वाला हूं फिलहाल मुंबई में अपना बिजनेस करता हूं 2012 में मैंने अपने ब्लॉगिंग करियर की शुरुआत की थी मेरे अपने बहुत सारे blogs हैं और मैं उस पर आर्टिकल लिखता हूं लेकिन वह सब प्राइवेट ब्लॉग हैं नॉलेज फाइंडर में भी मैं आपको नई-नई जानकारियां देता रहूंगा अगर आपको मेरी जानकारी पसंद आते है तो आप मुझसे bharatmewada.com पर भी जुड़ सकते

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here