IP Address क्या है? कैसे काम करता है? IP अड्रेस बारे में पूरी जानकारी

0
Namaskar Dost, Knowledge finder Hindi blog par aap ko Hindi mein articles milenge jaise Banking,Technology, Biography,Education,Internet ki jankari,aur bhi bahut sare Knowledgeable Jankari article ke madad se milenge. Hamare likh aapko pasand aate hai Toh Post ko share kare! 🧡

आज कल स्मार्टफोन तो सब यूज़ करते है तो अपने कभी न कभी IP Address का नाम  तो जरूर सुना होगा. स्मार्टफोन हो या कंप्यूटर हर  Device के लिए अलग-अलग IP Address सेट  किया जाता. 

IP अड्रेस क्या है?

Internet Protocol (IP) यह एक मेथड या प्रोटोकॉल है, जिसके द्वारा डाटा इंटरनेट पर एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर भेजा जाता है।

नेटवर्क से जुड़े हर डिवाइस का यूनिक आईपी एड्रेस होता है । आपके डिवाइस के यूनिक एड्रेस के बिना, आप नेटवर्क या इंटरनेट पर अन्‍य डिवाइसेस, युजर और कंप्‍यूटर के साथ कम्युनिकेशन/कनेक्ट नहीं कर सकते है | आईपी एड्रेस बाइनरी वैल्यू का बना हुआ होता है.

जब आप अपने कंप्यूटर या फ़ोन को इंटरनेट से  जोड़ते  है तो आपके डिवाइस को इंटरनेट पर पहचान कराने के लिए  एक खास कोड दिया जाता हे जिससे आपके लोकेशन और आपके नेटवर्क  का  पता चलता है.इस कोड को IP एड्रेस या  इंटरनेट प्रोटोकॉल एड्रेस भी कहा जाता है.IP  एड्रेस चार भागो में बटा रहता है .प्रत्येक IP  एड्रेस को डॉट  यानि दस्मलव के चिन्हो दवारा  अलग अलग किया जाता है.IP  एड्रेस के प्रत्येक भाग में 0  से 255 अंक  होते है 192.168.1.10 इस प्रकार यह एक 192.168.1.10 एड्रेस है.

IP Address Full Form in Hindi

IP Address Ka Full Form हैं –

Internet Protocol / इंटरनेट प्रोटोकॉल

IP Address Full Form

Full Form of IP Address is – Internet Protocol

(IP Address Versions in Hindi)

1- IPV4

 IPV4 मतलब वर्शन 4.यह जो IPV4 यह सिर्फ 4बिलियन  एड्रेस ही जेनेरेट  कर सकता है.    IPV4 Address है जिसे 1983 में विकसित किया गया.  IPV4 32 बिट होता है. IPV4 एड्रेस कुछ इस तरह दिखाई देता है 172.16.254.1 जिसे चार भागों में विभाजित कर दशमलव से अलग किया जाता है. तथा प्रत्येक रेंज 0 से लेकर 255 तक  होती है. जिसमें प्रत्येक भाग 8 बिट्स का होता है.

आमतौर पर IPV4 बाइनरी, हेक्साडेसीमल आदि रूप में दिखाई देता है. लेकिन IPV4  में केवल सीमित आईपी एड्रेस हो सकते हैं. अभी लगभग सभी डिवाइस में IP4 Address उपलब्ध होता है.

2 IPV6

पिछले कुछ सालों से इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की बढ़ती संख्या के कारण IP4 Version  की लिमिट फुल  कारण IP6 Version को विकसित किया गया.  जिसमें असीमित IP एड्रेस तैयार किये जा सकते हैं.

IPV4 में केवल 32 बिट्स होते हैं, परन्तु IPV6 में बढ़ाकर 128 बिट्स कर दिया गया है. IPV6 को एक बड़े स्तर पर लॉन्च किया गया जिसमें अनेक उपयोगी तकनीक को जोड़ा गया है, जिससे यह किसी Router के  पूरे नेटवर्क को आटोमेटिक बदल सकता है. और वर्तमान में आधुनिक डेस्कटॉप तथा सर्वर में IPV6 का सपोर्ट होता है.

IP एड्रेस के प्रकार (Types of IP Address in Hindi)

IP Address के दो प्रकार होते हैं.

  1. Private IP Address
  2. Public IP Address

1 Private IP Address

जब मोबाइल, कंप्यूटर आदि एक से अधिक डिवाइस किसी केबल या वायरलेस रूप में कनेक्ट होते हैं, तो यह प्राइवेट IP एड्रेस का निर्माण करते हैं. इसमें कनेक्ट किये गए सभी डिवाइस के IP को प्राइवेट एड्रेस कहा जाता है.

2 Public IP Address

पब्लिक IP एड्रेस दो प्रकार के हो सकते हैं, पहला Static IP Address जिसे ISP (Internet Service Provider) द्वारा किसी Server को Access करने के लिए खरीदा जाता है. Public IP Address इंटरनेट सेवा प्रदाताओं (ISPs) द्वारा दिया जाता है. जिसे हम बदल नही सकते हैं. तथा यह एड्रेस सबसे अलग होता है. जैसे, एक वेबसाइट, DNS Server आदि.

अपने कम्प्युटर या मोबाईल फोन का IP एड्रेस कैसे पता करें?

हम अपने कम्प्युटर, लैपटॉप, स्मार्टफोन का आईपी ऐड्रेस किस प्रकार पता कर सकते हैं?

चलिए हम आपको Step by Step तरीका बताते है कि कैसे आप अपने किसी भी डिवाईस का आई पी एड्रेस की जानकारी कर सकते है.

हम आपको IP Address पता करने के दो आसान तरीके बता रहे है.

  1. इंटरनेट सर्च द्वारा
  2. Command Prompt द्वारा

1 इंटरनेट सर्च द्वारा आई पी एड्रेस का पता कैसे लगाते है?

Step: #1

सबसे पहले आप जिस डिवाईस का IP Address जानना चाहते है. उस डिवाईस में किसी भी एक वेब ब्राउजर को खोल लीजिए. हम यहाँ अपने कम्प्युटर का आई पी एड्रेस पता कर रहे है.  

Step: #2

अब ब्राउजर के सर्च बॉक्स में what is my ip लिखिए और एंटर दबा दीजिए. ऐसा करते ही आपके डिवाईस का आई पी एड्रेस आ जाएगा.

यदि आप अपने मोबाईल फोन का आई पी एड्रेस जानना चाहते है तो उसके लिए भी यही प्रोसेस अपना सकते है.

5.2 Windows Command Prompt द्वारा IP Address पता करना

Step: #1

सबसे पहले Windows Start Button पर क्लिक कीजिए और सर्च बॉक्स में cmd टाईप कीजिए.

Step: #2

ऐसा करते ही Command Prompt आपके सामने आ जाएगा. अब cmd Icon पर माउस एरो ले जाए और इसके ऊपर Right-Click कीजिए और Run as Administrator को सेलेक्ट कीजिए.

Step: #3

अब आपके सामने Windows Command Prompt Open हो जाएगा. अब आप इसमें की-बोर्ड की सहायता से ipconfig टाईप कीजिए. यहाँ एक बात का ध्यान रखे कि जैसा हमने लिखा है. आप भी हूँ-ब-हूँ लिखे. नही तो परिणाम बदल सकता है.

Step: #4

Ipconfig टाईप करने के बाद Enter दबा दीजिए. आपके सामने Windows PC का IP Address आ जाएगा. जो IPv4 के सामने दिखाई देगा.  

इस तरह आप किसी भी डिवाईस का IP Address पता कर सकते है. और जान सकते है कि मेरे कम्प्युटर या लैप्टॉप का IP Address क्या है? और इसे किस नाम से पहचाना जाता है.

At Last:

तो दोस्तो यह थी आज की पोस्ट IP अड्रेस क्या है?IP अड्रेस कैसे काम करता है? IP अड्रेस बारे में पूरी जानकारी! उम्मीद है आपको पसंद आई होगी।। अगर आपके कुछ सवाल सुझाव है तो कमेंट करके जरूर बताएं।

इस ब्लॉग के लेटेस्ट पोस्ट की नोटिफिकेशन पाने के लिए फेसबुक पेज लाइक, ब्लॉग के बेल्ल आइकॉन सब्सक्राइब करना न भूले। नॉलेज फाइंडर ब्लॉग विजिट करने के लिए और लिख पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

यह भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here